सजायाफ्ता सेंगर की विधानसभा सदस्यता खत्म !    मिस्र के पूर्व राष्ट्रपति हुस्नी मुबारक का निधन !    अनिल गुप्ता चौथी बार बने ट्रिब्यून यूनियन के अध्यक्ष !    सुप्रीम कोर्ट के 6 जज एच1एन1 से संक्रमित !    पांच दिन में बिजली गिरने से 16 लोगों की मौत !    मुन्ना बजरंगी हत्याकांड की होगी सीबीआई जांच !    हैप्पीनेस क्लास मेलानिया से बच्चों ने पूछा- कितना बड़ा है अमेरिका !    रेलवे ने कैंसिल और वेटिंग टिकट से कमाये 9,000 करोड़ !    तीसरी संध्या में विक्की चौहान ने जमाया रंग !    राष्ट्रपति कोविंद ने दिया रात्रिभोज !    

पर्यावरण को समर्पित प्रो. सैनी

Posted On May - 17 - 2010

एक चेहरा भीड़ में

यमुनानगर : यमुना नदी के तट पर स्थित औद्योगिक नगरी निवासी प्रो. सोहनलाल सैनी उस शख्सियत का नाम है जो आज पर्यावरण विमुख समाज में पर्यावरण सुरक्षा में लगे हैं। पर्यावरण प्रेमी के  रूप में आसपास के राज्यों में ख्याति प्राप्त कर चुके प्रो. सैनी अब तक 43 ह•ाार पौधों का रोपण और उनका पालनपोषण कर उन्हें वृक्षों के रूप में विकसित कर चुके हैं।
उल्लेखनीय है कि दस वर्ष पूर्व ईरान जैसे शुष्क इलाके में स्थित अलंबार विश्वविद्यालय में नाना प्रकार के वृक्ष, फूलदार पौधे और हरियाली देखकर प्रो. सैनी के दिल में पर्यावरण के प्रति कुछ नया करने के जज्बे ने जन्म लिया। भारत आने पर उन्होंने कुछेक मित्रों की सहायता से पौधारोपण का कार्य आरंभ किया। प्रो. सैनी ने अपनी मुहिम को सफलता प्रदान करने के लिए ‘येस’ नामक संस्था का गठन किया। समय-समय पर गली, मोहल्लों में घूमकर समाज के प्रत्येक वर्ग को पौधारोपण संबंधी कार्यक्रम में शामिल होने के लिए प्रेरित किया। जनता का सहयोग मिलते ही प्रो. सैनी ने यमुनानगर की गलियों और खाली पड़ी भूमि को पौधों से हरा-भरा कर दिया।
इस तरह प्रो. सैनी ने पौधों और वृक्षों की देखभाल के लिए ट्रैक्टर ट्राली, पानी के टैंकर आदि सामान जुटा लिया। गणित के प्रवक्ता प्रो. सैनी ने वृक्षों की संख्या बढ़ाने के लिए अनेक फार्मूले पौधारोपण कार्यक्रम पर लागू किये। यह प्रो. सैनी के दिमाग का ही कमाल था कि उन्होंने रोजमर्रा की गतिविधियों को पौधारोपण से जोड़कर अपने अभियान को एक नयी दिशा प्रदान की। जन्मदिन, नौकरी, स्थानांतरण, सेवानिवृत्ति आदि खुशी के अवसरों के साथ-साथ प्रो. सैनी ने श्राद्ध एवं अंतिम संस्कार के समय पर सगे-संबंधियों द्वारा पौधारोपण करवाकर यमुनानगर शहर का अस्सी प्रतिशत भाग हरियाली से ढक दिया। इसके अतिरिक्त प्रो. सैनी ने ‘मंगलवेला वृक्षोपहार’, ‘जहां स्तंभ – वहीं सुगंध’ जैसी अनेक योजनाएं चलाकर शहर की तमाम सड़कें और सड़क डिवाइडरों को वृक्षों से भर दिया। प्रो. सैनी की वृक्षों को लगाने की कटिबद्धता को देखते हुए हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री ओमप्रकाश चौटाला ने इन्हें दो बार सम्मानित किया। वृक्षों के प्रति उनके नि:स्वार्थ सेवा भाव को देखते हुए उन्हें पूर्व राज्यपाल बाबू परमानंद द्वारा ‘ग्रीन मैन आफ हरियाणा’ की उपाधि से नवाजा जा चुका है।
हरित एवं स्वच्छ हरियाणा का सपना संजोने वाले प्रो. सैनी का मानना है कि गर्मियों में आग उगलते सूरज की गर्मी के दौरान जब राहगीर उनके द्वारा लगाये गये वृक्षों के तले ठंडी छांव में राहत महसूस करते हैं, तो उन्हें लगता है कि मुझे मेरी मेहनत का इनाम मिल गया है।    – प्रस्तुति : मुकेश अग्रवाल


Comments Off on पर्यावरण को समर्पित प्रो. सैनी
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Manav Mangal Smart School
Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.