भगौड़े को पकड़ने गयी पुलिस पर हमला, 3 कर्मी घायल !    एटीएम को गैस कटर से काट उड़ाये 12.61 लाख !    कुल्लू में चरस के साथ 2 गिरफ्तार !    बारहवीं की छात्रा ने घर में लगाया फंदा !    नेपाल को 56 अरब नेपाली रुपये की मदद देगा चीन !    इस बार अब तक कम जली पराली !    पीएम की भतीजी का पर्स चुरा सोनीपत छिप गया, गिरफ्तार !    फरसा पड़ा महंगा, जयहिंद को आयोग का नोटिस !    महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव में प्रचार करेंगी मायावती !    ‘गांधीजी ने आत्महत्या कैसे की?’ !    

एक महिला के मां न बन पाने का दर्द है ‘गोद-भराई’

Posted On March - 13 - 2010

इन दिनों एक ओर ‘कलर्स’ चैनल के लोकप्रिय सीरियल ‘बालिका वधू’ को लेकर तरह-तरह की अफवाहों का बाजार गर्म है तो दूसरी ओर यही  टीम अब एक नया सीरियल लेकर आ रही है जिसका नाम है ‘गोद भराई’। यह सीरियल सोनी पर प्रसारित होगा। चैनल ने इसे 8 मार्च से सोमवार से गुरुवार शाम साढ़े 7 बजे का समय दिया है।
सोनी चैनल इन दिनों अपने गर्दिश के दिनों से गुजर रहा है। ‘गोद भराई’ की जहां टीम अच्छी है वहां इसकी कहानी भी अच्छी है। पर स्टार प्लस ने हाल ही में शाम 7:30 बजे एक नए सीरियल ‘ससुराल गेंदा फूल’ को शुरू किया है और उसके शुरुआती एपिसोड दर्शकों ने पसंद भी किए हैं। इससे ‘गोद भराई’ को ‘गेंदा फूल’ से मुकाबला करना होगा।
‘गोद भराई’ का निर्माण सुन्जॉय वधवा ने किया है। पुर्णेन्दु शेखर और गजरा कोठारी ने इसे लिखा है जब कि सीरियल का निर्देशन सिद्धार्थ सेनगुप्ता का है। ये ही लोग मिलकर ‘बालिका वधू’ बना रहे हैं जो इन दिनों आनन्दी के रोल और यह रोल करने वाली अविका गौड़ के सीरियल में काम करने या न करने को लेकर चर्चाओं में है।
यह सीरियल उन महिलाओं के दर्द को दिखाता है जो जीवन में कभी मां नहीं बन पातीं। एक महिला की पहचान बेटी, बहन, पत्नी, बहू और मां के रूप में होती है। यदि कोई महिला मां नहीं बन पाती तो कहा जाता है उसका जीवन अधूरा है। समाज उसे बांझ कहकर पुकारता है। जिस तरह धरती के उस टुकड़े को सम्मान नहीं मिलता जो उपजाऊ न हो और उसे बंजर भूमि कहकर निरादर किया जाता है उसी तरह एक बांझ भी अपनी अनेक विशेषताओं के बावजूद तिरस्कृत-सी रहती है।
‘गोद भराई’ में यह सब कहानी अग्निहोत्री परिवार के माध्यम से दिखाई है। रमाकांत अग्निहोत्री का एक बड़ा परिवार है। उसके तीन बच्चे हैं गौरव, शिवम और कविता। वह एक रिटायर व्यक्ति है पर खुद रिटायर लोगों की तरह रहना उन्हें पसंद नहीं। इसीलिए वह खुद को समाज सेवा के कार्यों से जोड़े रखते हैं। पर रमाकांत का मानना है कि घर पर महिलाओं का राज होना चाहिए। इसीलिए वह अपनी पत्नी भाग्यश्री को अपने परिवार पर शासन करने का पूरा अधिकार देते हैं पर उनका मानना है यह शासन प्यार, ईमानदारी और वफादारी के साथ करना चाहिए, हालांकि भाग्यश्री खुद ही एक अच्छी पत्नी है और अपने पति और परिवार के लिए हमेशा समर्पित रहती हैं।
उनका बड़ा बेटा गौरव है और दूसरा बेटा शिवम। शिवम की पत्नी आस्था है और सीरियल की मूल कहानी आस्था को लेकर ही है। आस्था एक बेहद प्यारी युवती है। वह एक आदर्श बहू है और अपनी जिन्दगी के सभी फैसले अपने पति शिवम के कहने पर ही करती है। उसकी जिन्दगी में कोई कमी है तो बस यही कि वह मां नहीं बन पा रही है। उसका यह अभिशाप उसकी और उसके परिवार की जिन्दगी में क्या कोई तूफान ला देगा या वह अपने इस अभिशाप के बावजूद यूं ही खुशी-खुशी जिन्दगी जी सकेगी? यही कहानी का सार है।
सोनी के कार्यक्रम प्रमुख अजय मालवंकर कहते हैं—’गोद भराई’ की कहानी दिल को गहराइयों तक छू लेती है। हर महिला जीवन में मां जरूर बनना चाहती है पर यह सौभाग्य सभी को नहीं मिलता। हालांकि इसमें उस महिला का कोई दोष नहीं, प्रकृति के कारण ही ऐसा होता है। पर समाज उस महिला को ही उसका दोष देता है और उसे हर वक्त कोसता है।  सीरियल में पल्लवी सुभाष, शक्ति आनन्द, रविन्द्र मनकानी, मंगल केनकरे, मोहित मलिक, राजेश जैस, नेहा कौल और आंचल द्विवेदी प्रमुख भूमिकाओं में हैं।
आस्था के रोल में पल्लवी सुभाष है जो इससे पहले ‘करम अपना अपना’, ‘तुम्हारी दिशा’, ‘कसम से’ और ‘बसेरा’ जैसे कई सीरियल कर चुकी हैं। साथ ही वह मराठी प्ले और मराठी फिल्मों से भी जुड़ी रही हैं। यूं इस सीरियल के और भी कई कलाकार मराठी नाटक या मराठी सीरियल और फिल्मों से जुड़े हुए हैं। रमाकांत अग्निहोत्री का रोल करने वाले रविन्द्र लक्ष्मण मनकानी मराठी फिल्मों के साथ सोनी चैनल पर पहले भी ‘साक्षी’, ‘आहट’, ‘सीआईडी’ जैसे सीरियल कर चुके हैं। शिवम बने शक्ति आनन्द भी मराठी के साथ हिन्दी के ‘सारा आकाश’, ‘एक लड़की अंजानी सी’, ‘क्राइम पेट्रोल’ कर चुके हैं।

संगीता


Comments Off on एक महिला के मां न बन पाने का दर्द है ‘गोद-भराई’
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...
Both comments and pings are currently closed.

Comments are closed.

Powered by : Mediology Software Pvt Ltd.